लखनऊ

अखिल भारतीय कायस्थ महासभा ने मनाया ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ ।

कायस्थों का योगदान राष्ट्र विकास में सदा ही रहा है।

लखनऊ:14 अगस्त : 1090 चौराहे के निकट, आजादी के 75वीं वर्षगांठ की पूर्व संध्या पर, अमृत महोत्सव का कार्यक्रम अखिल भारतीय कायस्थ महसभा लखनऊ के तत्वाधान में आयोजित किया गया जिसमे मुख्य अतिथि. प्रदेश अध्यक्ष (महिला ) श्रीमती नीरा सिन्हा वर्षा ने कहा हमारे युवाओं और महिलाओ के बलिदान से हमें आजादी मिली है इसमें कायस्थ नेताओं की भूमिका अविस्मरणीय रही है, फिर चाहे नेता सुभाष चंद्र बोस हो या बलिदानी खुदीराम बोस,स्वामी विवेकानंद हो या महर्षि अरविंदो घोष
प्रथम राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद हों या लालबहादुर शास्त्री
ऐसे कई नाम निकलेंगे, जिन्होंने अपनी सेवाएं देश को दी, कायस्थ समाज हमेशा से राष्ट्र के साथ चला है।
इस अवसर पर नगर अध्यक्ष अनुपम श्रीवास्तव ने कहा आजादी की लड़ाई मे, लखनऊ के कायस्थ राजाओं का बहुत समृद्धि इतिहास रहा है जैसे राजा टिकैत राय और राजा बक्सी इनके अलावा अंग्रेज़ों के साथ युद्ध मे यहां के कायस्थ राजाओं की महती भूमिका रही है
महासचिव अलोक श्रीवास्तव ने लखनऊ में हुए युद्ध के समय बेग़म हज़रत महल को कैसे यहां की कायस्थ नागरिकों के धन से और सैनिको को गुप्त सूचनाएं दे कर सहायता की इसका विस्तार से वर्णन किया
कार्यक्रम मे पूर्ण वन्देमातरम का गायन प्रस्तुत किया गया, संचालन नगर उपाध्यक्ष अलोक सक्सेना ने किया
आभार युवा महासचिव विनीत श्रीवास्तव ने किया
कार्यक्रम मे सरोजिनी नगर से मोहन श्रीवास्तव, जानकीपुरम से अजय श्रीवास्तव, चौक से कुलदीप खरे और बृजेन्द्र स्वरूप निगम, श्रुति और अनन्या खरे, कल्याणपुर से गरिमा और अभिषेक श्रीवास्तव, मल्हौर से आर.पी. श्रीवास्तव और राजेश श्रीवास्तव, जुगोली से मिहिर और राजेश श्रीवास्तव, निशातगंज से विजय और शुभ श्रीवास्तव, मानस एन्क्लेव से संजय सक्सेना, इंदिरा नगर से अखिलेश सक्सेना, मुलायम नगर से माधवी श्रीवास्तव, गोमती नगर से नीलम निगम, अलीगंज से बरखा वर्मा, इंद्रा नगर से तनु और पंखुड़ी श्रीवास्तव, वास्तु खंड से सतेंद्र राय और अन्य महिलाओ और पुरुषों ने भाग लिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button