लखनऊ

लखनऊ की कानून व्यवस्था एवं विकास कार्यों की सघन समीक्षा बैठक।

सभी अधिकारी ज़ीरो टॉलरेंस नीति के आधार पर कार्य करना करे सुनिश्चित

लखनऊ।:22 अगस्त 2022 : मंत्री लोक निर्माण विभाग उ0प्र0 सरकार जितिन प्रसाद ,राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) व्यवसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास कपिल देव अग्रवाल व राज्यमंत्री चिकित्सा शिक्षा एवं स्वास्थ्य, परिवार कल्याण, मातृ एवं शिशु कल्याण मयंकेश्वर शरण सिंह की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में लखनऊ की कानून व्यवस्था एवं विकास कार्यो की सघन समीक्षा बैठक आहूत की गई। बैठक में जिलाधिकारी लखनऊ सूर्य पाल गंगवार व संयुक्त पुलिस आयुक्त पीयूष मोर्डिया भी उपस्थित रहे। समीक्षा के दौरान अध्यक्ष द्वारा निर्देश दिए कि जनपद को अपराध मुक्त बनाया जाये, इसके लिए सभी प्रकार के प्रभावी कदम उठाये जाये। अध्यक्ष द्वारा निर्देश दिया गया कि सभी अधिकारी योजनाओ का क्रियान्वयन समयबद्ध तरीके से करे। नहरों में पानी देने की व्यवस्था में सुधार किया जाए। नालों की साफ सफाई पर विशेष ध्यान देते हुए जलभराव की समस्या को समाप्त किया जाए। अध्यक्ष द्वारा बैठक में कड़े निर्देश दिए गए कि कार्यो में किसी भी प्रकार की अनियमितता को बर्दाश्त नही किया जाएगा। सभी अधिकारी ज़ीरो टॉलरेंस नीति के आधार पर कार्य करना सुनिश्चित करे।

अध्यक्ष द्वारा बताया गया कि इस समीक्षा बैठक के बाद आगामी समीक्षा बैठक कार्यों/योजनाओ के भौतिक सत्यापन के उपरांत आहूत की जाएगी। साथ ही प्रत्येक विभाग की समीक्षा बैठक अलग अलग विभागवार आहूत की जाएगी। बैठक में निम्नलिखित दिशा निर्देश दिए गए :-

1) अपराध एवं कानून व्यवस्था अन्तर्गत महिला सशक्तीकरण एवं मिशन शक्ति का क्रियान्वयन कराये जाने हेतु महिला संबंधी अपराधों के अन्तर्गत पंजीकृत मामलों अनुसूचित जाति जनजाति के व्यक्तियों के विरूद्ध अपराधों में पंजीकृत मामलों के निस्तारण की विस्तृत समीक्षा की गयी एवं गैंगस्टर अधिनियम के अन्तर्गत अपराधी/माफिया के विरूद्ध कार्यवाही की प्रगति की समीक्षा भी की गयी। संयुक्त पुलिस आयुक्त द्वारा बताया गया कि त्योहारों के दृष्टिगत पर्याप्त व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराते हुए समस्त त्यौहार शांतिपूर्ण रूप से सम्पन्न कराए गए है। मिशन शक्ति के अंतर्गत सतत पेट्रोलिंग कराई जा रही है। 6 ड्रोनों के माध्यम से भी क्षेत्रों में मॉनिटरिंग कराई जा रही है। उन्होंने बताया कि पिंक बूथों पर प्रत्येक बूथ पर 2-2 महिला कांस्टेबल की नियुक्ति की गई है। समीक्षा के दौरान अध्यक्ष महोदय द्वारा बताया गया कि शहर में शराब के ठेकों के आस पास गाड़िया पार्क करके मदिरापान किया जाता है। जिसके सम्बन्ध में संयुक्त पुलिस आयुक्त द्वारा बताया गया की इस सम्बंध में लगातार कार्यवाही करते हुए चालानी कार्यवाही की जा रही है।

2) भू-माफिया:- बैठक में भू माफिया व अतिक्रमणकर्ताओं पर की गई कार्यवाही की भी समीक्षा की गई। जिलाधिकारी द्वारा महोदय को बताया गया कि कुल 7182 शिकायतें प्राप्त हुई जिसके सापेक्ष कार्यवाही करते हुए 2137.37 हे0 भूमि को अवमुक्त कराते हुए 94 FIR दर्ज कराई गई। अवशेष शिकायतों के सम्बंध में जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि अवशेष शिकायतों को उपजिलाधिकारी स्तर पर निस्तारित कराया जा रहा है। साथ ही तहसील स्तर पर और कार्यालय स्तर पर भी जो शिकायतें प्राप्त होती है उसके सम्बन्ध में भी वृहद अभियान चलते हुए कार्यवाही की जा रही है। जिसके सम्बन्ध में अध्यक्ष महोदय द्वारा निर्देश दिया गया कि अस्थाई अतिक्रमण को तत्काल हटवाना सुनिश्चित किया जाए और जहाँ पर निर्माण है उसको कार्यवाही करते हुए हटवाना सुनिश्चित कराया जाए।

3) अवैध खनन:- उक्त के बाद अध्यक्ष द्वारा अवैध खनन के सम्बंध में की गई कार्यवाही की समीक्षा की गई। जिलाधिकारी द्वारा अध्यक्ष महोदय को बताया गया कि अवैध खनन के 49 प्रकरणों और अवैध परिवहन के 100 प्रकरणों पर कार्यवाही करते हुए 34.40 लाख रुपये जुर्माना किया गया। जिलाधिकारी द्वारा निर्देश दिया गया कि ARTO व खनन निरीक्षक अलग अलग क्षेत्रों में कार्यवाही करते हुए कृत कार्यवाही से अवगत कराएं। साथ ही खनन के पट्टे व खनन की अनुमति की सूचना सम्बंधित थानों को भेजना सुनिश्चित किया जाए।

4) अध्यक्ष द्वारा नहरों में टेल तक पानी पहुंचाने की समीक्षा की गई। समीक्षा में पाया गया कि 168 नहरों में पानी पहुंचाने के सापेक्ष केवल 136 नहरों में ही पानी पहुँचाया गया है। जिसके लिए अध्यक्ष महोदय द्वारा नाराज़गी व्यक्त की गई। साथ ही निर्देश दिया गया कि 136 नहरों में पानी की स्थिती का सत्यापन सुनिश्चित किया जाए। यदि पानी की कमी पाई जाती है तो सम्बंधित के विरुद्ध कार्यवाही करना सुनिश्चित किया जाए।
5)अध्यक्ष द्वारा विधुत विभाग के निवेश मित्र पोर्टल व झटपट पोर्टल पर लम्बित आवेदनों की समीक्षा की गई। समीक्षा में पाया गया कि निवेश मित्र पोर्टल पर तकनीकी सम्भाव्यता एवं प्राक्कलन हेतु 23 आवेदनों को समय सीमा के अंदर एवं ऊर्जाकृत हेतु 5 आवेदनों को भी समय सीमा के अंदर निस्तारित कर दिया गया। परन्तु झटपट पोर्टल में 2407 आवेदनों के सापेक्ष 318 आवेदन अभी भी लम्बित है। जिसके लिए विधुत विभाग द्वारा बताया गया कि मीटर की अनुपलब्धता के कारण 318 प्रकरण लंबित है। मीटर उपलब्ध हो गए है अगले 1 सप्ताह में शत प्रतिशत निस्तारण सुनिश्चित करा लिया जाएगा।

6) अध्यक्ष द्वारा नई सड़कों का निर्माण/चौड़ीकरण की समीक्षा की गई। समीक्षा में पाया गया कि लोक निर्माण विभाग द्वारा 83 कार्यों के सापेक्ष केवल 28 कार्य पूर्ण हुए है। जिसके लिए अध्यक्ष महोदय द्वारा नाराज़गी व्यक्त करते हुए कड़े निर्देश दिए गए कि जिन कार्यों के पूर्ण होने की तिथि निकल गई है उनकी कार्यदायी संस्थाओं के विरुद्ध कार्यवाही की जाए। सभी कार्य गुणवत्तापूर्ण और नाली निर्माण के साथ कराए जाने सुनिश्चित किये जाए। विभाग द्वारा बताया गया कि अवशेष सभी कार्य दिसम्बर तक पूर्ण हो जाएंगे। साथी ही साथ अध्यक्ष महोदय द्वारा विशेष मरम्मत व नवीनीकरण के कार्यों की भी समीक्षा की गई। समीक्षा में पाया गया कि प्रांतीय खण्ड व निर्माण खण्ड 2 को मिला कर कुल 280.518 किमी के 160 मरम्मत के कार्यों के सापेक्ष कुल 24 कार्य पूर्ण करा लिए गए है। जिसके लिए अध्यक्ष द्वारा सड़कों की मरम्मत के कार्यों में देरी के सम्बंध में जानकारी मांगी गई। विभाग द्वारा बताया गया कि वर्षा ऋतु के कारण मरम्मत कार्यो को रोकना पड़ा है। 15 सितम्बर से कार्य शुरू करते हुए आगामी 2 माह में सभी कार्य पूर्ण कर लिए जाएगे।

7) अध्यक्ष द्वारा सेतुओं के निर्माण की समीक्षा की गई। समीक्षा में पाया गया कि जनपद में 3 सेतुओं का निर्माण कार्य चल रहा है। जिसमे से 1 सेतु के निर्माण का कार्य पूर्ण हो गया है और 2 सेतुओं का कार्य लगभग 86.67% पूरा हो गया है। विभाग द्वारा बताया गया कि शहीद पथ को एयरपोर्ट से जोड़ने वाले सेतु के निर्माण का कार्य लगभग पूरा हो गया है। परंतु एयरपोर्ट द्वारा अपना कार्य पूरा नही किया गया है। जिससे कि सेतु का कार्य पूरा नही हुआ है। बैठक में उपस्थित जनप्रतिनिधि द्वारा अवगत कराया गया कि सदर से उदयगंज वाले फ्लाई ओवर की मरम्मत नही हुई है। जिसके सम्बन्ध में विभाग द्वारा बताया गया कि मरम्मत के लिए इस्टीमेट बना कर स्वीकृत होने के लिए भेजा गया है।

8) अध्यक्ष द्वारा किसान सम्मान निधि की समीक्षा की गई। समीक्षा में पाया गया कि 3025 किसानों के डेटा अभी भी सुधार हेतु लंबित है। जिसके लिए निर्देश दिया कि सभी ब्लाको में तहसील के माध्यम से कैम्प लगवा कर किसानों के डेटा को सही किया जाए। साथ ही उक्त कार्य को माह के अंत तक पूरा करना सुनिश्चित किया जाए।

9) अध्यक्ष द्वारा स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा की गई। समीक्षा में गोल्डन कार्ड बनाने की गति खराब पाई गई। जिसके लिए निर्देश दिया गया कि कैम्प लगा कर पात्र लाभार्थियों का गोल्डेन कार्ड बनाना सुनिश्चित किया जाए। साथ ही अध्यक्ष महोदय द्वारा निर्देश दिया गया कि बारिश के मौसम के दृष्टिगत अभियान चलते हुए संचारी रोगों की रोकथाम व टीकाकरण कार्य कराना सुनिश्चित किया जाए।

बैठक में उपाध्यक्ष लखनऊ विकास प्राधिकरण, मुख्य विकास अधिकारी, नगर आयुक्त, अपर नगर आयुक्त, अपर जिलाधिकारी प्रशासन, अपर जिलाधिकारी पूर्वी, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व, अपर जिलाधिकारी ट्रान्स गोमती, अपर जिलाधिकारी नागरिक आपूर्ति, अपर जिलाधिकारी भू0आ0 प्रथम व द्वितीय, ज़िला विकास अधिकारी, परियोजना निदेशक ग्राम्य विकास व अन्य विभगीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button