उत्तर प्रदेशबड़ी खबरलखनऊ

सपा ने की जिलों में तीन साल से तैनात निर्वाचन आयोग के अधिकारियों को हटाने की मांग

लखनऊ : समाजवादी पार्टी ने मुख्य निर्वाचन अधिकारी उत्तर प्रदेश को ज्ञापन सौंपकर एक ही जनपद में तीन वर्ष से अधिक समय से कार्यरत सहायक जिला निर्वाचन अधिकारियों (राजपत्रित अधिकारी) का स्थानांतरण करने का आग्रह किया. ज्ञापन में कहा गया है कि आगामी विधानसभा चुनाव को निष्पक्ष और स्वतंत्र रुप से संपन्न कराने के लिए यह आवश्यक है.
वहीं दूसरी तरफ अखिलेश यादव ने बयान जारी कर कहा कि देश में दो सरकारें समानांतर काम कर रही हैं. एक सरकार का नेतृत्व भाजपा कर रही है और दूसरी समानांतर सरकार RSS के नेतृत्व में अपना एजेंडा लागू कराती है. भाजपा सरकार सत्ता का दुरुपयोग करती है और संघ समाज में बंटवारा पैदा करता है. इन दो पाटों के बीच जनता और विपक्षी कार्यकर्ता समान रुप से पीस रहे हैं.
उन्होंने राज्य की विधि-व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि जिन पर कानून-व्यवस्था संभालने की जिम्मेदारी है, वही लगातार कानून का मजाक बना रहे हैं. उन्होंने कहा कि सत्ता के संरक्षण में पनप रहे अपराधियों ने पूरे प्रदेश में अपना आतंक मचा रखा है. दलित-वंचित और समाज के कमजोर वर्गों के ऊपर भाजपा राज में अत्याचार ज्यादा बढ़ गए हैं, क्योंकि भाजपा मूलत: पूंजी घरानों और शोषक तत्वों की समर्थक पार्टी है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button