उत्तर प्रदेशबड़ी खबरलखनऊ

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद लखनऊ पहुंचे, सुरक्षा के कड़े इंतजाम

लखनऊ: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद चाकचौबंद सुरक्षा इंतजामों के बीच उत्तर प्रदेश के 4 दिवसीय दौरे पर गुरुवार को लखनऊ पहुंचे हैं. जहां एयरपोर्ट पर राज्यपाल आनंदी बेन पटेल व सीएम योगी आदित्यनाथ ने उनका स्वागत किया. इस बीच राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की फ्लीट राजभवन पहुंची. राष्ट्रपति अपने 4 दिवसीय दौरे के दौरान अयोध्या में रामलला का दर्शन भी करेंगे.

राजधानी लखनऊ में 26 अगस्त को राष्ट्रपति कोविंद बाबा भीमराव अंबेडकर विश्वविद्यालय में एक प्रस्तावित कार्यक्रम में शामिल होने आ रहे हैं. इस कार्यक्रम को सकुशल संपन्न कराने के लिए पुलिस कमिश्नर लखनऊ ध्रुव कांत ठाकुर व संयुक्त पुलिस आयुक्त कानून एवं व्यवस्था पीयूष मोर्डिया ने बुधवार की रात रिजर्व पुलिस लाइन स्थित संगोष्ठी सदन में एक गोष्ठी का आयोजन किया. जिसमें संबंधित अधिकारियों को शांति सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए.

मिली जानकारी के अनुसार राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 26 अगस्त को लखनऊ पहुंचेंगे. इसके साथ ही वह 29 अगस्त तक प्रदेश में प्रस्तावित कार्यक्रम में शामिल होंगे. इस दौरान सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखना एक बड़ी चुनौती है. पुलिस कमिश्नर लखनऊ डीके ठाकुर व संयुक्त पुलिस आयुक्त कानून एवं व्यवस्था पीयूष मोर्डिया द्वारा रिजर्व पुलिस लाइन स्थित संगोष्ठी सदन में गोष्ठी का आयोजन किया गया.

पुलिस कमिश्नर लखनऊ व संयुक्त पुलिस आयुक्त कानून एवं व्यवस्था पीयूष मोर्डिया द्वारा राष्ट्रपति के लखनऊ आगमन से पूर्व सुरक्षा व्यवस्था पर चर्चा की. इसके साथ ही सुरक्षा व्यवस्था में लगे पुलिस अधिकारी, कर्मचारियों को यातायात व्यवस्था व अपनी ड्यूटी के प्रति विशेष सतर्कता बरतने व सुरक्षा संबंधी महत्वपूर्ण बिंदुओं पर आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए.

पुलिस कमिश्नर द्वारा लखनऊ में चप्पे-चप्पे पर पुलिस व्यवस्था के कड़े व्यापक इंतजाम करते हुए राजपत्रित अधिकारी, कर्मचारियों की तैनाती की गई है. इसके साथ ही सुगम यातायात व्यवस्था के लिए ट्रैफिक पुलिस की लखनऊ के प्रमुख स्थानों व चौराहों पर भी तैनाती की गई है. जिससे आम जनमानस को किसी भी तरह की जाम संबंधी समस्याओं का सामना न करना पड़े व यातायात सुचारू रूप से चलता रहे. इसके साथ ही साथ सोशल मीडिया पर भी कड़ी निगरानी रखने के लिए भी जोर दिया गया है. पुलिस कमिश्नर द्वारा वीवीआईपी सुरक्षा में लगे सभी राजपत्रित अधिकारी, प्रभारी निरीक्षक, कर्मचारी को शांति सुरक्षा एवं बेहतर कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए निर्देशित किया है.

नौवें दीक्षांत समारोह का आयोजन

बाबासाहेब भीमराव अंबेडकर केंद्रीय विश्वविद्यालय के नौवें दीक्षांत समारोह का आयोजन आज शाम 5 बजे से आयोजित किया जाएगा. इस समारोह के मुख्य अतिथि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद हैं. उनके साथ राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और सीएम योगी आदित्यनाथ भी दीक्षांत समारोह के मंच पर मौजूद रहेंगे. जहां 132 होनहारों को मेडल बांटा जाएगा. बता दें, इस बार दीक्षांत समारोह कई मायनों में बेहद खास रहेगा.

दीक्षांत समारोह में 132 विद्यार्थियों को गोल्ड मेडल दिया जाएगा. इस बार आंकड़ों के अनुसार मेडल जीतने में लड़कियों ने बाजी मारी है. मेडल प्राप्त करने वाले छात्र 39 हैं. जबकि मेडल प्राप्त करने वाली छात्राओं की संख्या 91 है. इस बार आर डी सोनकर पुरस्कार भी विवि की इतिहास विभाग की छात्रा अंजू रावत को दिया जाएगा. ओपन कैटेगरी में कुल 70 और एससी एसटी कैटेगरी में कुल 60 मेडल दिए जाएंगे. कुल 132 गोल्ड मेडल में स्नातक के 15 विद्यार्थियों, परास्नातक के 42, एमफिल के 9 विद्यार्थियों और 1 गोल्ड मेडल 5 ईयर इंटीग्रेटेड बीएससी-एमएससी और 1 मेडल डिप्लोमा कोर्स के लिए दिया जाएगा.

वर्ष 2019-20 के कुल 1,420 विद्यार्थियों को डिग्री प्रदान की जाएगी. स्नातक के कुल 423 विद्यार्थियों को जिसमें 262 छात्र और 161 छात्राओं को डिग्री प्रदान की जाएगी. परास्नातक के कुल 815 विद्यार्थी जिसमें 416 छात्र और 399 छात्राओं को डिग्री प्रदान की जाएगी. एमफिल के कुल 37 विद्यार्थी जिसमें 10 छात्र और 27 छात्राओं को डिग्री दी जाएगी. पीएचडी के कुल 127 शोधार्थियों में से 74 पुरुष और 55 महिला शोधार्थियों को उपाधि प्रदान की जाएगी.

ऐसा रहेगा राष्ट्रपति का कार्यक्रम

शाम 5:00 बजे राष्ट्रपति बाबा साहब भीमराव अंबेडकर की प्रतिमा पर करेंगे माल्यार्पण.

माल्यार्पण के बाद भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेई प्रेक्षाग्रह में अकादमिक शोभायात्रा के साथ शुरू होगा समारोह.

राष्ट्रपति मेधावीयों को मेडल देकर समारोह को करेंगे संबोधित.

बाराबंकी जिले के 6 रेलवे स्टेशनों से गुजरेगी प्रेसिडेंशियल ट्रेन

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद यूपी के 4 दिवसीय प्रवास के दौरान 29 अगस्त यानी रविवार को श्रीरामलला के दर्शन करने अयोध्या जाएंगे. इसके साथ ही वे अयोध्या में यूपी सरकार के संस्कृति एवं पर्यटन विभाग की परियोजनाओं का शुभारंभ भी करेंगे. राष्ट्रपति रेलमार्ग से अयोध्या जाएंगे. जिसको लेकर रेलवे विभाग सतर्क है. लखनऊ से अयोध्या के बीच पड़ने वाले स्टेशनों और रेलवे ट्रैक की जांच पड़ताल के साथ ही उनके दुरुस्तीकरण में रेलवे विभाग जुटा है. रेलवे महाप्रबंधक और डीआरएम लखनऊ से अयोध्या तक ट्रैक का जायजा ले चुके हैं. लखनऊ से अयोध्या तक पूरा रेलवे ट्रैक सुरक्षा घेरे में रहेगा.

प्रेसिडेंशियल ट्रेन चारबाग से चलकर 135 किमी का सफर ढाई घण्टे में तय करेगी.सुबह 09 बजे चलकर ये ट्रेन साढ़े 11 बजे अयोध्या पहुंचेगी.इस दौरान ये स्पेशल ट्रेन बाराबंकी जिले में 54 किमी का सफर तय करेगी. चारबाग और अयोध्या के बीच पड़ने वाले बाराबंकी जंक्शन से होकर ये ट्रेन गुजरेगी लिहाजा रेलवे स्टेशन पर सतर्कता बढ़ा दी गई है.

रेलवे सूत्रों के मुताबिक रास्ते मे पड़ने वाले सभी स्टेशन मास्टरों को परंपरागत ड्रेस पहनने और कंट्रोल रूम के सम्पर्क में रहने के निर्देश दिए गए हैं. जीआरपी और आरपीएफ के जवान जगह-जगह तैनात रहेंगे. रास्ते में पड़ने वाली हर रेलवे क्रासिंग, ओवरब्रिज, रेलवे ब्रिज और मानव रहित रेलवे क्रासिंग पर विशेष सुरक्षा व्यवस्था के साथ निगरानी रखी जाएग. यही नहीं रेलवे ट्रैक के नजदीक वाले गांवों में ट्रैक के किनारे पुलिस का सख्त पहरा रहेगा.

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की प्रेसिडेंशियल ट्रेन बाराबंकी जिले में पड़ने वाले 6 स्टेशनों सफेदाबाद, बाराबंकी, रसौली, सफदरगंज, सैदखानपुर और दरियाबाद से होकर गुजरेगी. लिहाजा जिला प्रशासन सुरक्षा के हर कदम उठा रहा है. बुधवार को एडीजी जोन लखनऊ एसएन साबत और अयोध्या रेंज के पुलिस महानिरीक्षक डॉ. संजीव गुप्ता ने बैठक कर जिलाधिकारी और पुलिस कप्तान को व्यापक सुरक्षा व्यवस्था के दिशा निर्देश दिए.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button