उत्तर प्रदेशबड़ी खबरलखनऊ

यूपी के साढ़े पांच लाख गरीबों को मिली घर की सौगात, CM योगी ने सौंपी चाबी, जानें- क्या है सबसे खास

यूपी में आज पीएम और सीएम आवास योजना के 5 लाख 51 हज़ार लाभार्थियों को उनके अपने आशियाने की चाबी मिली. इनमे वो 26 लाभार्थी भी शामिल रहे जिनका आशियाना लखीमपुर खीरी की उस मॉडल टाउनशिप में बनाया गया है जिसकी सराहना खुद सीएम योगी आदित्यनाथ ने की है. ये है लखीमपुर खीरी लन्दनपुर ग्रंट मॉडल गांव. इस मौके पर इस टाउनशिप के प्रोजेक्ट की कल्पना को ज़मीन पर उतारने वाले अधिकारी अरविंद सिंह भी मौजूद रहे. जब ये प्रोजेक्ट ज़मीन पर उतारा गया तो अरविंद सिंह लखीमपुर खीरी में बतौर सीडीओ तैनात थे. वर्तमान में वे कानपुर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष हैं. उन्हें सीएम ने सभी के सामने प्रेजेंटेशन देने के लिए बुलाया था.

लखीमपुर में सीडीओ रहते अरविंद सिंह ने एक प्रोजेक्ट बनाया था. इसमे गांव के विकास की जो योजनाएं अलग-अलग आती हैं उसको एक में एसेम्बल कर के मॉडल टाउन तैयार किया था. इसमें प्रधानमंत्री आवास योजना, शौचालय, मनरेगा और ग्राम विकास निधि व अन्य को मिला करके इंटीग्रेटेड मॉडल तैयार किया. यह प्रोजेक्ट शासन को काफी पसंद आया और इसे प्रदेश के गांव गांव में लागू करने की योजना सरकार ने बनाई. आज मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान अरविंद सिंह ने इस मॉडल का प्रेजेंटेशन प्रदेश के सभी डीएम और सीडीओ को दिया.

ये कांसेप्ट गांव के नियोजित विकास का है- अरविंद सिंह

कार्यक्रम के बाद अरविंद सिंह ने बताया कि ये कांसेप्ट गांव के नियोजित विकास का है. जैसे विकास प्राधिकरण शहरों में विकास करते हैं उसी तरह गटेड कॉलोनी लगाकर गांव में विकास. जहां पार्क, जिम, वाकिंग ट्रैक, कैटल शेड, बिजली, पानी, सड़क सभी सुविधाओं से युक्त मिनी टाउनशिप हो वो भी बिना अतिरिक्त ग्रांट या धनराशि के. इस पायलट प्रोजेक्ट में 10 विभागों की 30 स्कीम्स का कन्वर्जन एक साथ किया है. उन्होंने कहा कि नियोजित विकास होने से जो भी खर्च होता है उसका मैक्सिमम आउटपुट निकलता है. लोगों का रहन सहन बेहतर होता है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button