खेल-खिलाड़ी

धवन की जगह राहुल को कप्तानी किया जाना सही फैसला। राहुल को साबित करना होगा।

जिम्बाब्वे के खिलाफ बृहस्पतिवार हरारे में शुरू हो रही तीन मैचों की वनडे सीरीज से पहले भारतीय कप्तान केएल राहुल के फॉर्म और फिटनेस पर सभी की नजरें होंगी. टी20 फॉर्मेट में भारत के शीर्ष क्रम का अभिन्न अंग माने जाने वाले राहुल इस सीरीज में अपनी चिर परिचित लय हासिल करने की पूरी कोशिश में होंगे. खेल हर्निया के ऑपरेशन के कारण राहुल दो महीने बाद टीम में लौटे हैं। उनके सामने चुनौती टी20 टीम में सलामी बल्लेबाज की भूमिका बरकरार रखने और पहली गेंद से आक्रामक बल्लेबाजी की होगी।

कोच राहुल द्रविड़ और नियमित कप्तान रोहित शर्मा की नजरें सिर्फ राहुल के रनों पर ही नहीं होगी बल्कि वो यह भी देखना चाहेंगे कि रन किस तरह से बने हैं। भारतीय टीम को एशिया कप में पाकिस्तान के खिलाफ 28 अगस्त को पहला मैच खेलना है।

हरारे स्पोटर्स क्लब पर जिम्बाब्वे ने 300 और 290 रन से अधिक के लक्ष्य का पीछा करते हुए हाल ही में बांग्लादेश को हराया है। ऐसे में राहुल, शिखर धवन, शुभमन गिल, दीपक हुड्डा और संजू सैमसन बड़ी पारियां खेलने की कोशिश में होंगे।

भारत के पास मोहम्मद सिराज, प्रसिद्ध कृष्णा, दीपक चाहर और कुलदीप यादव जैसे गेंदबाज जबकि शार्दुल ठाकुर और अक्षर पटेल जैसे हरफनमौला भी हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button