देशबड़ी खबर

पीएम मोदी बोले- अगर आज डिजिटल कनेक्टिविटी नहीं होती तो सोचिए कोरोना में क्या स्थिति होती

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज डिजिटल इंडिया के 6 साल पूरा होने पर इस अभियान के लाभार्थियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए जुड़े. पीएम मोदी ने डिजिटल इंडिया के 6 साल पूरा होने पर ई-नाम योजना के लाभार्थी के साथ बात की. प्रधानमंत्री ने कहा, “ई-नाम पोर्टल इसलिए बनाया गया है ताकि किसान देश की सभी मंडियों में अपनी फसल का सौदा कर सके. इस पोर्टल पर किसान और व्यापारी बड़ी संख्या में जुड़ रहे हैं.”
डिजिटल इंडिया के 6 साल पूरा होने पर पीएम मोदी ने कहा, आरोग्य सेतु ऐप का कोरोना संक्रमण को रोकने में बहुत मदद मिली. टीकाकरण के दौरान दुनिया के कई देश कोविन ऐप में दिलचस्पी दिखा रहे हैं. वे चाहते हैं कि उनके देश में भी इस योजना का लाभ मिले. कोविड काल में हमने अनुभव किया कि डिजिटल इंडिया ने हमारे काम को कितना सरल बना दिया. कल्पना कीजिए कि अगर डिजिटल कनेक्टिविटी नहीं होती तो कोरोना में क्या स्थिति होती. डिजिटल इंडिया मतलब सबको अवसर, सबको सुविधा, सबकी भागीदारी.
किसानों के जीवन में डिजिटल का महत्व
पीएम मोदी ने कहा कि किसानों के जीवन में डिजिटल लेनदेन से अभूतपूर्व परिवर्तन आया है. पीएम किसान सम्मान निधि के तहत 10 करोड़ से ज्यादा किसान परिवारों को 1 लाख 35 करोड़ रुपए सीधे बैंक अकाउंट में जमा किए गए हैं. डिजिटल इंडिया ने वन नेशन, वन MSP की भावना को भी साकार किया है. पीएम मोदी ने आगे कहा, ‘शिक्षा का डिजिटल होना आज समय की मांग है. अब हमारी कोशिश है कि गांव में सस्ती और अच्छी इंटरनेट कनेक्टिविटी मिले. सस्ते मोबाइल और दूसरे माध्यम उपलब्ध हो ताकि गरीब से गरीब बच्चा भी अच्छी पढ़ाई कर पाएं.’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button