उत्तर प्रदेश

SGPGIMS में न्यूरो सर्जरी की स्किल लैब का उद्घाटन।

लखनऊ: संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान का न्यूरो ऑटोलॉजी स्किल लैब प्रदेश की ही नहीं भारत की एकमात्र लैब है जो संस्थान के न्यूरो सर्जरी विभाग के अंतर्गत न्यूरो ऑटोलॉजी यूनिट के अंतर्गत स्थापित की गई है। न्यूरो ऑटोलॉजी में कई गंभीर व चुनौतीपूर्ण प्रकरण आते हैं जिनमें स्कल बेस व लेटरल स्कल बेस से संबंधित बीमारियों और ट्यूमर आदि की गिनती होती है। मस्तिष्क के बेस /आधार पर बहुत ही वाइटल /जीवंत संरचनाएं होती हैं जहां शिराओं से रक्त हृदय की तरफ और हृदय से रक्त धमनियों के माध्यम से मस्तिष्क की तरफ जाता है कुछ शिराओं और तंत्रिकाओं के मध्य रिक्त स्थान मिलीमीटर में होता है और यह ऐसे तंत्र का निर्माण करते हैं जिनकी रक्षा हर हाल में करनी होती है यहां पर होने वाले कई तरह के कैंसर तथा नॉन कैंसर ट्यूमर जब अस्पताल में आते हैं तो बड़ा रूप ले चुके होते हैं और इन्हें पूरी तरह निकालने वाले सर्जन भी देश दुनिया में कम ही हैं क्योंकि इस जगह पर नाक, कान, गले की संरचनाएं होती हैं इसलिए विभाग में न्यूरो ऑटोलॉजी की टीम भी होती है अतः मुश्किल से मुश्किल ऑपरेशन भी किए जाते यही विभाग की पहचान भी है। विगत कई वर्षों से न्यूरो सर्जरी विभाग इसके लिए प्रयत्नशील था इसी क्रम में आज न्यूरोसर्जरी विभाग की स्किल लैब (टेंपोरल बोल) का उद्घाटन प्रो. राजकुमार विभागाध्यक्ष, न्यूरो सर्जरी विभाग द्वारा किया गया इसमें चिकित्सकों को जटिल न्यूरो सर्जरी और स्कल बेस सर्जरी करने का विशेष प्रशिक्षण दिया जाएगा जिससे संस्थान से और ज्यादा दक्ष चिकित्सक तैयार हो सके और मरीज के इलाज की गुणवत्ता में और वृद्धि हो यहां पर प्रदेश के ही नहीं देश के कोने-कोने से चिकित्सक भी प्रशिक्षण लेने आएंगे और यहां अनुभाविक शोध भी किया जा सकता है इस अवसर पर न्यूरो विभाग के सभी संकाय सदस्य जिनमें डॉ. अरुण कुमार श्रीवास्तव, डॉ. अमित कुमार केसरी, डॉ. एम. रविशंकर एवं अन्य चिकित्सक, रेजिडेंट डॉक्टर, तकनीकी कर्मचारी व अन्य कर्मचारी उपस्थित रहे ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button