फ़र्रूख़ाबाद

महल सुतरहट्टी, फर्रुखाबाद पर कब्जे का मामला।

भू माफिया और अपराधी महल पर कब्जा करने के लिए दे सकते हैं किसी बड़ी घटना को अंजाम।

फर्रुखाबाद :11 अगस्त शहर के प्रमुख व्यवसायी भगवान दास रस्तोगी की रेकी करने का माफिया साजिद इकबाल व उसके गुर्गे का वीडियो सामने आया है ।हालांकि आज सिविल जज सीनियर डिवीजन की अदालत मे कार्य नही हुआ 24 अगस्त को अगली तारीख लगी है आजादी के 75 वां महोत्सव घर घर तिरंगा अभियान मे जुटे शहर के व्यवसायी रस्तोगी बन्धु को साजिद इकबाल व उनके गुर्गों से लगातार जान का खतरा बढ़ता जा रहा कल रात्रि व आज सुबह साजिद इकबाल व उसके गुर्गों को जानकारी मिली की सुतरहट्टी महल मे रस्तोगी बन्धु खड़े है।तुरंत उनके गुर्गे मौके पर पहुँच गए। सूत्रो की माने तो अधिकांश चेहरे जनपद के नही थे मतलब यह हुआ किसी वारदात को अंजाम देने के लिए बाहर से अपराधियों को बुलाया जा रहा है। सूचना मिलने पर पुलिस पहुँच गई । पुलिस के पहुंचते ही साजिद व उसके गुर्गे फरार हो गए ।
चर्चा यह भी है की साजिद इकबाल कहां रहता पुलिस को पता नही ।अमरोहा से यहां किसी आपराधिक घटना को अंजाम देने आता है। उसका मकसद क्या हो सकता है जबकि प्लाट ,जमीन पर न तो उसका कब्जा है न कोई ठोस दस्तावेज ,बैनामा आदि उसके पास है।साजिद कोर्ट व पुलिस को लगातार गुमराह कर रहा है साजिद इकबाल के तार किस किस से जुड़े हैं यह मोबाइल डिटेल से ही पता लग सकता है।

विगत दिनों साजिद इकबाल का पड़ोस मे रहने वाले 2/78 निवासी सरफराज हुसैन से वाद विवाद हुआ था
साजिद का सुतरहट्टी महल से भी कोई वास्ता नही है। रस्तोगी बंधुओं व सामाज सेवक, नेता भवन स्वामी राघवेन्द्र सिह का इस स्थान पर कब्जा है। सुतरहटटी महल से कोई वास्ता ना होने के बावजूद भी साजिद का बराबर वहां पर आना और फसाद करना यह जाहिर करता है कि उसके पीछे कुछ बड़े लोगों का हाथ है जो किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के फिराक में हैं।
फर्रुखाबाद शहर के प्रमुख व्यवसायी उधोगपति भगवान दास रस्तोगी को जान का खतरा बढ़ता जा रहा। साजिद के गुर्गे उनको धमका रहे हैं इस संबंध में उन्होंने पुलिस अधिकारियों से भेंट कर यह बताया कि उन्हें अपनी जान का खतरा है। देखना होगा कि कोर्ट और पुलिस इस मामले में क्या करती है या किसी बड़ी वारदात के हो जाने के बाद सिर्फ लकीर पीटती रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button