उत्तर प्रदेशलखनऊ

जुग्गौर पीएचसी क्वालिटी एश्योरेंस में लखनऊ में अव्वल

लखनऊ। जुग्गौर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र (पीएचसी) को क्वालिटी एश्योरेन्स के तहत जिले में प्रथम पुरस्कार मिला है। कायाकल्प अवार्ड के रूप में जुग्गौर पीएचसी को दो लाख रूपये और सरोजनीनगर, खुजौली,  कुम्हरावां और गंगागंज पीएचसी को 50-50 हजार रूपये का सांत्वना  पुरस्कार दिया गया है। यह जानकारी मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. मनोज अग्रवाल ने दी है।

डॉ मनोज अग्रवाल ने बताया कि प्रदेश में कई वर्षों से क्वालिटी एश्योरेन्स के अंतर्गत कायाकल्प पुरस्कार दिया जा रहा है। इस पुरस्कार के लिए इन पीएचसी के समस्त स्टाफ बधाई के पात्र हैं। जिले के अन्य स्वास्थ्य केन्द्रों को भी इनसे सीख लेते हुए पुरस्कार के लिए प्रयास करने चाहिए।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि इससे पहले सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) बक्शी का तालाब, इटौंजा, मोहनलालगंज, चिनहट , मलिहाबाद, सरोजनीनगर और शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सिल्वर जुबली को वर्ष 2020-21 का कायाकल्प अवार्ड मिल चुका है। इसके अलावा  वीरांगना अवंतीबाई जिला महिला अस्पताल को नेशनल क्वालिटी एश्योरेंस स्टैण्डर्ड (एन्क्वास) और क्वालिटी इम्प्रूवमेंट  इनिशिएटिव इन लेबर रूम एंड मेटरनिटी ओ.टी.(लक्ष्य)  का सर्टिफिकेट मिल चुका है। जिला क्वालिटी एश्योरेन्स कंसल्टेंट डा. नाजिया शाहीन ने बताया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन ने जिलों में अव्वल रहीं प्रदेश की 295 पीएचसी की सूची जारी की है। कायाकल्प पुरस्कारों की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 15 मई 2015 को की थी।

इस श्रेणी में पुरस्कार पाने के लिए स्वास्थ्य केन्द्रों पर सात बिन्दुओं –  चिकित्सालय कर्मियों के कार्यशैली एवं दक्षता में सुधार करना, स्वास्थ्य सुविधा परिसर में सफाई , बायोमेडिकल वेस्ट प्रबंधन, हाइजिन प्रमोशन, स्वास्थ्य केंद्र की चहारदीवारी के बाहर भी सफाई, सेनिटाइजेशन, संक्रमण प्रबंधन आदि बिन्दुओं पर जाँच टीम के द्वारा अंक दिए जाते हैं। सर्वाधिक स्कोर हासिल करने वाले स्वास्थ्य केन्द्रों को इसके तहत पुरस्कृत किया जाता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button