उत्तर प्रदेश

उप मुख्यमंत्री की उद्यमियों व अधिकारियों के साथ बैठक ।

मिर्जापुर: उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य द्वारा मिर्जापुर,आयुक्त कार्यालय के सभागार में जनपद के उद्यमियों तदुपरान्त सभी जनपदीय अधिकारियो के साथ बैठक कर उद्यमियों की समस्याओं को सुनते हुये उनके निस्तारण तथा जनपद में कराये गये विकास कार्यों के प्रगति की समीक्षा करते हुये लक्ष्य पूर्ति के निर्देश अधिकारियो को दिया गया।
उद्यमियों की बैठक में उप मुख्यमंत्री ने कहा कि जनपद मीरजापुर व भदोही के उद्यमियों के द्वारा उठाये गये समस्याओं तथा सुझावों का निस्तारण व अमल करने के लिये मण्डलायुक्त द्वारा जिलाधिकारी के निर्देशन में कमेटी बनाकर निस्तारण करने का निर्देश दिया। उन्होने कहा कि उद्योगपतियों के द्वारा दिये गये सुझावों को भी लिखित रूप से प्राप्त करते हुये कमेटी के द्वारा जाॅचोपरान्त अमल में लाया जाय।
बैठक में जनपद मीरजापुर के उद्यमी मोहन चन्द्र अग्रवाल के द्वारा इंडस्ट्रीयल पार्क बनाने, पर्वतीय क्षेत्रो में आवागमन के साधन व सौन्दर्यीकरण बनाये जाने से पर्यटन में विकास का सुझाव, पीतल बर्तन के लिये नगर में प्रदूषण से मुक्त करने तथा नगर के बाहर जमीन चिन्हित कर पीतल इंडस्ट्री स्थापित करना आदि के बारे में सुझाव दिया। इसी प्रकार अशीष बुधिया तथा ओ0वी0टी0 प्रबन्धक राजेश मिश्र द्वारा कारपेट इंडस्ट्रीज के बढ़ाने हेतु सुझाव तथा भदोही के उद्यमी आनन्द बर्नवाल के द्वारा भदोही में स्थापित कारपेट मार्ट के मरम्मत हेतु धन आवंटन व भदोंही के सड़को के मरम्मत का सुझाव दिया। जिस पर उप मुख्यमंत्री जी द्वारा सम्बन्धित अधिकारियो को निर्देशित किया गया कि उठाये गये मुद्दो को प्राथमिकता पर लेते हुये कार्य किया जाय उद्यमियों की समस्याओं का एक ही स्थान पर निस्तारण कराया जाय ताकि वे इधर उधर भटकना न पड़ें।
उप मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में निर्मित प्रोडक्ट बड़े पैमाने पर निर्यात तथा निवेश की जा रही है तथा यहां के प्रोडक्ट को दुनिया के अन्य देशो में निवेश व निर्यात के लिये सरकार प्रयासरत है तथा मा0 प्रधानमंत्री जी व मा0 मुख्यमंत्री जी के द्वारा इस दिशा मे योजनाबद्ध तरीके से कार्य किया जा रहा हैं। उन्होने कहा कि उत्तर प्रदेश में वर्तमान सरकार के द्वारा सुरक्षा प्रदान किया गया है। उद्यमियों का शोषण करने वाले माफियाओं को जेल भेजने का काम किया गया है ,जिससे उत्तर प्रदेश में अब निडर होकर उद्यमी कार्य कर रहें। उन्होने कहा कि निजी क्षेत्र के उद्यमियों में भी बड़े पैमाने पर कार्य किया जा रहा है। उन्होने कहा कि उत्तर प्रदेश में जितना मैन पावर है ,उतना अन्य प्रदेशो में नही हैं। कोरोना काल में कुशल व अकुशल श्रमिक विभिन्न प्रदेशो से वापस आये है, जिनका प्रदेश सरकार द्वारा लघु उद्यम तथा बैंको के माध्यम से छोटे-छोटे स्वरोजगार के लिये ऋण योजना का लाभ प्रदान करते हुये प्रदेश के अन्दर ही रोजगार के अवसर प्रदान किये जा रहे हैं। उद्योग से जुड़े लोगो को सुरक्षा प्रदान करना हमारी सरकार की प्राथमिकता हैं। निवेश एवं निर्यात से अधिकांश लोगो को रोजगार मिले ,प्रदेश सरकार की मंशा हैं। आज भ्रष्टाचार से मुक्त शासन है। उन्होने कहा कि काशी विश्वनाथ कारीडोंर के बनने से दर्शनार्थियों की संख्या में बढ़ोतरी हुयी, जिससे वहां पर प्रत्येक क्षेत्र में छोटे बड़े रोजगार के अवसर भी बढ़े हैं। इसी तरह विन्ध्याचल में विन्ध्य कारीडोर के निर्माण से भी श्रद्धालुओ की संख्या में बढ़ोतरी होगी और यहाॅ एक जनपद एक उत्पाद के प्रोजेक्ट कोे बढ़ावा मिलेगा। उन्होने अधिकारियो से अपील करते हुये कहा कि उद्यमियों की समस्या का हल स्थानीय स्तर पर किया जाय। उद्योगपतियों व प्रतिनिधियों से कहा कि प्रदेश स्तर का यदि कोई समस्या हो तो प्रत्येक सोमवार व मंगलवार को स्वयं उनके द्वारा जनता दर्शन का आयोजन किया जाता है ,सम्पर्क कर समस्या का समाधान करा सकते हैं। आज दुनिया में भारत में बने प्रोडक्ट की मांग बढ़ी हैं। उन्होने कहा कि हमारे कार्यकाल में व्यापारियों को प्रदेश में आवागमन हेतु सड़को की मरम्मत तथा फोरलेन व सिक्सलेन का कार्य किया गया है।
उन्होने कहा कि संज्ञान में आया है कि भदोही के कारपेट मार्ट में 14 सितम्बर से राष्ट्रीय कारपेट मेला लगाया जा रहा है ,जहाॅ पर देश विदेश के व्यापारी आयेंगे। जिससे स्थानीय स्तर के उत्पादों को बढ़ावा मिलेगा। उन्होने कहा कि कारपेट के अलावा मण्डल के अन्य उत्पादों को भी प्रदर्शनी में लगाया जाय। उन्होने कहा कि जापान में आयोजित एक कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के ओ0डी0ओ0पी0 में बने सामानों को लोगो के गिफ्ट किया गया। उन्होने कहा कि उद्यमियों को हर सम्भव सरकार की तरफ से सहयोग व सुरक्षा प्रदान किया जायेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button