उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरलखनऊ

बीएसपी ने एक और सीट पर घोषित किया उम्मीदवार, जानें- किसे दिया टिकट

यूपी में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए सभी पार्टियां जुट गई हैं. सभी राजनीतिक दल चुनावी किला फतेह करने के लिए कोई भी कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं. मायावती की पार्टी (BSP) ने चुनावी तैयारी में एक कदम आगे बढ़ाते हुए अपने प्रत्याशियों की घोषणा करना शुरू कर दिया है. कानपुर (Kanpur) की बिल्हौर विधानसभा से मधु गौतम (Madhu Gautam) को मैदान में उतारा गया. इसकी घोषणा पार्टी कार्यकर्ता सम्मेलन में आए सेक्टर प्रभारी और एमएलसी भीमराव अंबेडकर और नौशाद अली ने कार्यकर्ताओं के समक्ष की.

लॉ एन्ड ऑर्डर मायावती के राज में बेहतर रहता था- बीएसपी नेता

बीएसपी नेता ने कहा कि बिल्हौर विधानसभा में ज्यादातर बाहरी लोग चुनाव जीतकर चले जाते हैं. ऐसे में बीएसपी ने निर्णय लिया है कि क्षेत्र की एक शिक्षित महिला को उम्मीदवार बनाया जाए. ताकि क्षेत्र का विकास हो सके. वक्ताओं के मुताबिक कानून व्यवस्था मायावती के राज में बेहतर रहता थी. अब जनता 2022 के विधानसभा चुनाव में बसपा को वोट देने के लिए आतुर है. उधर कार्यकर्ता सम्मेलन के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं ने एमएलसी भीमराव अंबेडकर और नौशाद अली को प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया. इस दौरान पार्टी कार्यकर्ता बहुजन समाज पार्टी के पक्ष में नारेबाजी कर रहे थे. मिशन 2022 कौन फतेह करेगा यह तो भविष्य की गर्त में है. लेकिन राजनैतिक दलों की तैयारियों को देखकर लगता है 2022 का चुनावी मुकाबला दिलचस्प होगा.

वहीं दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश के अमरोहा की हसनपुर तहसील से 45 किलोमीटर का सफर कर दो सौ गांवों में कृषि बिल के विरोध में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव व पूर्व कैबिनेट मंत्री कमाल अख्तर ने यात्रा निकाली. कमाल अख्तर ने कहा कि गंगा मां सब की मां हैं. चाहे हिंदू भाई नहा कर पवित्र होता हो या मुसलमान भाई वजू कर कर नमाज पढ़ता हो. मां गंगा सब की मां है ना के बीजेपी वालों की. इसलिए आज कृषि बिल के विरोध में हमने यह यात्रा निकाली है और किसानों को इस काले कानून के बारे में जागरूक किया है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button