उत्तर प्रदेशसुलतानपुर

धनपतगंज पुलिस के हत्थे चढ़े पांच अंतर्जनपदीय गोतस्कर

भूपेंद्र सिंह

  • विगत कई वर्षों से करते थे गौ तस्करी का अवैध कारोबार
सुल्तानपुर। विगत कई वर्षों से गौ तस्करी का पर्याय बनेअंतर्जनपदीय गिरोह के पांच तस्करों को पुलिस ने गिरफ्तार किया।।पुलिस के मुताबिक पकडे गए तस्करों ने विगत 4-5 सालों से जनपद के विभिन्न थाना क्षेत्र में अपना अवैध कारोबार फैला रखा था।यह सरैया भरथीपुर नहर के किनारे तराई इलाकों में अपना कारोबार चलाते थे।संबंधित थाना क्षेत्र के जिम्मेदारों की सरपरस्ती में इन तस्करों के अवैध कारोबार संचालित हो रहे थे। लिहाजा आए दिन मारे गए गौ बंशो के अवशेष बरामद होने का मामला भी सुर्खिया बनता रहा है।
अवैध कारोबार का मामला सर्वाधिक बल्दीराय थाना क्षेत्र के नहर के किनारे के गाँवो में एवं गोसाईगंज थाना क्षेत्र के तियरी चांदपुर सेदोपट्टी ढेशरूआ आदि गांव में संचालित होते हैं। घटना क्रम के मुताबिक धनपतगंज थाने के तेजतर्रार थानेदार मनोज कुमार शर्मा को मुखबिर खास की सूचना पर कि शनिवार को शाम थाना स्थानीय के सरैया भरथी गांव के पास खाईं में गोबन्शो को काटने की योजना है सूचना पर सक्रिय हुई धनपतगंज पुलिस सक्रिय हुई तो नियत स्थान व समय पर दो गौवंश का पैर बांधकर रखा गया था। पुलिस ने घेरा बंदी कर पांच बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। जबकि कई तस्कर अंधेरे का फायदा उठा कर भागने में सफल हो गए।
गिरफ्तार में आये बदमाशों में पूछताछ के दौरान बताया कि हमारे गैंग लीडर नूर आलम उर्फ सोनू पूर्व बीडीसी वाह फरीद पुत्र जगन निवासी इसौली थाना बल्दीराय हैं यही यह ही हमें एडवांस रुपए देते है हमारे गैंग में कुल 10 सदस्य हैं गिरफ्तार अभियुक्तों में हिस्ट्रीशीटर मेराज पुत्र गोपाली निवासी ग्राम नदरौली थाना कोतवाली बीकापुर जनपद अयोध्या, हिस्ट्रीशीटर नंबर 93 ए ननकू पुत्र मतीन निवासी ग्राम नदरौली थाना कोतवाली बीकापुर जनपद अयोध्या, फिरोज पुत्र गोपाली निवासी उपरोक्त, मोहब्बत अली पुत्र रहमत अली निवासी तोरोमाफी दराबगंज थाना कोतवाली बीकापुर और रोज अफ्तार पुत्र मोहम्मद अनवर निवासी उपरोक्त है।पुलिस ने गिरफ्तार गौ तस्करों के पास चापड़,चाकू,रस्सा,अवैध तमंचा कारतूस व नकदी बरामद किया है। एसओ मनोज कुमार शर्मा ने बताया कि अभियुक्तों को जेल भेजने की कार्यवाही की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button