उत्तर प्रदेशताज़ा ख़बरलखनऊ

आतंकवादियों का समर्थन विपक्ष का आधिकारिक एजेंडा: स्वतंत्रदेव

लखनऊ : भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई कर रही यूपी पुलिस पर समाजवादी पार्टी के मुखिया की टिप्पणी पर कड़ी प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा कि आतंकवादियों का समर्थन, पोषण और संरक्षण समाजवादी पार्टी सहित विपक्ष के कई दलों का आधिकारिक एजेंडा है.
यूपी भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पुलिस अपनी जान पर खेलकर आतंकवादियों को पकड़ कर रही है. दूसरी ओर राष्ट्रीय सुरक्षा जैसे गंभीर विषय पर सपा मुखिया कह रहे हैं कि उन्हें पुलिस पर भरोसा नहीं है. सपा मुखिया को यह बताना चाहिए कि उन्हें पुलिस और देश की सेना पर भरोसा क्यों नहीं है? किस पर भरोसा दिखाते हुए सपा मुखिया ने अपनी सरकार में आतंकवादियों का मुकदमा वापस लेने की कोशिश की थी ?
कहा, ‘दरअसल, सपा सहित विपक्ष का भरोसा देश को तोड़ने की कोशिश करने वालों, दंगाइयों, अराजकों पर ज्यादा है. यही कारण है कि कांग्रेस के राज में जेल में आतंकवादी को बिरयानी खिलाई जा रही थी और सपा सरकार में दंगाइयों को हेलीकॉप्टर में बैठाकर सीएम कार्यालय लाकर उनका स्वागत किया जा रहा था.
स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि आतंकियों के मारे जाने पर एक पार्टी की मुखिया के आंसू नहीं रुक रहे थे. यह देश भूला नहीं है कि कैसे विपक्ष ने हमारी बहादुर सेना के शौर्य पर सवाल उठाते हुए सर्जिकल स्ट्राइक पर भी सवाल उठाए थे. इन सभी सवालों का जवाब देश व प्रदेश की जनता ने इन्हें ठुकरा कर दे दिया लेकिन अब तक इनकी बुद्धि ठिकाने नहीं आ पाई है.
सपा मुखिया ने पुलिस का किया अपमान
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि देश की सुरक्षा जैसे गंभीर मसलों को विपक्ष को अपनी तुष्टिकरण की राजनीति व हार की कुंठा से अलग रखनी चाहिए. सपा मुखिया को पुलिस पर भरोसा नहीं है तो उन्हें पुलिस की सुरक्षा त्याग देनी चाहिए. सपा मुखिया ने इस देश व प्रदेश के जवानों के बलिदान, शौर्य व कर्तव्यनिष्ठा पर सवाल उठाकर पुलिस का मनोबल तोड़ने व आतंकियों का संरक्षण देने का प्रयास किया है.
भाजपा नेता ने कहा कि विपक्ष भूल गया कि यह योगी की अगुवाई वाली भाजपा सरकार है जहां अपराधी और उनके आकाओं, दोनों को नहीं बख्शा जाएगा. न ही पुलिस व सेना का मनोबल कमजोर होने दिया जाएगा. हमें हमारी जवानों की निष्ठा व कर्तव्यपरायणता पर गर्व है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button