अमेठीउत्तर प्रदेश

अमेठी जिले के कुल 1,32,856 परिवारों को मिलेगा 5 लाख रुपए तक के मुफ्त इलाज की सुविधा।

भारत सरकार के द्वारा आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को बेहतर चिकित्सा सुविधाएं पहुंचाने के लिए 23 सितंबर 2018 को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना एवं 1 मार्च 2019 को मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना का शुभारंभ किया गया था। इस योजना के अंतर्गत सामाजिक जातीय एवं आर्थिक जनगणना के अनुसार चिन्हित आर्थिक रूप से पिछड़े हुए परिवारों को 5 लाख रुपया प्रति वर्ष प्रति परिवार का स्वास्थ्य बीमा योजना के माध्यम से प्रदान किया जाता है । इस योजना के अंतर्गत 1500 से अधिक बीमारी के लिए 2700 अस्पताल चिन्हित है जहां पर मुफ्त में इलाज किया जाता है। इसी के संदर्भ में आज अमेठी जनपद के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आशुतोष दुबे ने जनपद मुख्यालय गौरीगंज स्थित कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर मैं प्रिंट एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकारों के साथ बैठक कर चर्चा किया । जिसमें उन्होंने बताया कि अमेठी जिले में कुल 132856 लाभार्थी परिवार है जिसमें कुल लाभार्थियों की संख्या 664280 है । जिन्हें निशुल्क आयुष्मान कार्ड उपलब्ध कराया जाना है। जिले में अब तक 132856 के सापेक्ष 68986 निशुल्क आयुष्मान कार्ड तैयार कर लाभार्थी परिवारों को उपलब्ध कराया जा चुका है। अभी भी 63870 लाभार्थी परिवारों को निशुल्क आयुष्मान कार्ड उपलब्ध कराया जाना शेष है। जिले में 188454 आयुष्मान कार्ड अभी तक वितरित किए जा चुके हैं इस समय ब्लॉक स्तरीय सीएचसी तथा कॉमन सर्विस सेंटर पर प्रतिदिन निशुल्क आयुष्मान कार्ड बनाया जाना है । अवशेष लाभार्थी परिवारों को निशुल्क आयुष्मान कार्ड उपलब्ध कराने के लिए 26 जुलाई 2021 से 9 अगस्त 2021 तक “आयुष्मान पखवाड़ा” आयोजित किया जा रहा है । जिसमें गांव स्तर पर टीमें भेजकर आयुष्मान कार्ड तैयार कराकर लाभार्थियों को उपलब्ध कराया जाएगा । अभियान के दौरान समस्त लक्षित परिवारों को आयुष्मान कार्ड उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया है । जनपद के आयुष्मान लाभार्थियों को निशुल्क आयुष्मान कार्ड बनाने की एक वृहद कार्ययोजना है। इसमें कॉमन सर्विस सेंटर के सहयोग से गांव गांव में वृहत कैंप लगाया जाएगा । जिसमें आशा, एएनएम और अन्य लोगों के द्वारा लाभार्थी परिवारों को प्रेरित करके कैंप स्थल तक पहुंचाया जाएगा । आशा एवं आरोग्य मित्र के द्वारा एक परिवार के एक व्यक्ति का आयुष्मान कार्ड बनवाने पर ₹5 तथा एक परिवार में एक से अधिक परिवार के सदस्यों का आसमान कब कार्ड बनवाने पर ₹10 प्रोत्साहन राशि दी जाएगी । इसीलिए इस योजना का वृहद प्रचार प्रसार किया जा रहा है कैंप में आने वाले लाभार्थियों को निशुल्क आयुष्मान कार्ड बनवाने हेतु आवश्यक दस्तावेज जैसे प्रधानमंत्री जी का पत्र/मुख्यमंत्री जी का पत्र राशन कार्ड, आधार कार्ड और मोबाइल नंबर की आवश्यकता कैंप स्थल पर होगी । जिले में आयुष्मान कार्ड धारकों को 13 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों के साथ बीएचईएल हॉस्पिटल और 06 निजी अस्पतालों में इस कार्ड से निशुल्क इलाज कराया जा सकता है। इसी के साथ प्रदेश में जितने भी इंपैनल्ड चिकित्सालय हैं सभी में इस कार्ड से निशुल्क उपचार होगा । सीएमओ ने आगे बताते हुए कहा कि इस योजना से अभी तक जिले के 4912 लाभार्थियों का उपचार किया गया है । जिसमें कुल लगभग 3 करोड़ 56 लाख रुपए का निशुल्क उपचार प्रदान किया गया है । इसमें कूल्हा प्रत्यारोपण, हर्निया, दूरबीन विधि से पित्त की थैली का ऑपरेशन, कान के पर्दे का ऑपरेशन मोतियाबिंद गर्भाशय एवं बच्चेदानी का ऑपरेशन आदि महत्वपूर्ण उपचार शामिल है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button