अयोध्याउत्तर प्रदेशताज़ा ख़बर

अक्टूबर के पहले सप्ताह तक भर दी जाएगी राम मंदिर की नींवः अनिल मिश्रा

अयोध्याः श्रीराम मंदिर निर्माण समिति के अध्यक्ष नृपेंद्र मिश्र ने बुधवार की दोपहर सर्किट हाउस में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के पदाधिकारियों और राम मंदिर निर्माण कार्य में लगी लार्सन एंड टूब्रो कंपनी के तकनीकी विशेषज्ञों के साथ बैठक की. इस दौरान नृपेंद्र मिश्र ने अभी तक हुए निर्माण कार्य की समीक्षा की और निर्धारित समय में नींव भरने का काम पूरा करने के निर्देश दिए. समीक्षा के दौरान यह पाया गया कि 16 लेयर का निर्माण पूर्ण हो चुका है. वहीं, श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य अनिल मिश्र ने बताया कि सितंबर के आखिरी सप्ताह या अक्टूबर के प्रथम सप्ताह तक नींव की सभी लेयर बनाकर पूरी कर दी जाएगी.
अपने तीन दिवसीय प्रवास के दौरान नृपेंद्र मिश्र ने बुधवार की सुबह श्री राम जन्मभूमि परिसर में पहुंचकर निर्माण कार्य का जायजा लिया. यहां विश्वामित्र आश्रम में भी टाटा कंसलटेंसी आर्किटेक्ट आशीष सोमपुरा और लार्सन एंड टूब्रो के तकनीकी विशेषज्ञों के साथ निर्माण कार्य की प्रगति पर जानकारी ली. इसके बाद अयोध्या के सर्किट हाउस में नृपेंद्र मिश्रा ने निर्माण कार्य से जुड़े सभी सदस्यों और इकाइयों के प्रभारियों से क्रमवार उनके कार्य का अपडेट लिया. बुनियाद का काम और बेहतर तरीके से हो इसके लिए विशेष रूप से आमंत्रित आर्किटेक्ट आशीष सोमपुरा ने कई प्रस्ताव भी नृपेंद्र मिश्र के सामने रखे.
अपने तीन दिवसीय प्रवास के दौरान नृपेंद्र मिश्र ने बुधवार की सुबह श्री राम जन्मभूमि परिसर में पहुंचकर निर्माण कार्य का जायजा लिया. यहां विश्वामित्र आश्रम में भी टाटा कंसलटेंसी आर्किटेक्ट आशीष सोमपुरा और लार्सन एंड टूब्रो के तकनीकी विशेषज्ञों के साथ निर्माण कार्य की प्रगति पर जानकारी ली. इसके बाद अयोध्या के सर्किट हाउस में नृपेंद्र मिश्रा ने निर्माण कार्य से जुड़े सभी सदस्यों और इकाइयों के प्रभारियों से क्रमवार उनके कार्य का अपडेट लिया. बुनियाद का काम और बेहतर तरीके से हो इसके लिए विशेष रूप से आमंत्रित आर्किटेक्ट आशीष सोमपुरा ने कई प्रस्ताव भी नृपेंद्र मिश्र के सामने रखे.
वहीं, मीडिया से बात करते हुए श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के सदस्य अनिल मिश्र ने बताया कि सितंबर के आखिरी सप्ताह या अक्टूबर के प्रथम सप्ताह में राम मंदिर की नींव की सभी लेयर बनाकर पूरी कर दी जाएगी. जैसे ही नींव भरने का काम पूरा होगा, मंदिर निर्माण कार्य को और रफ्तार मिल जाएगी. उन्होंने कहा कि 16 लेयर का निर्माण का कार्य पूरा हो चुका है. शेष बची हुई लेयर बनाने के लिए दिन-रात काम चल रहा है. मंदिर नींव में 45 लेयर बनानी है, जिसके लिए तकनीकी विशेषज्ञ काम कर रहे हैं.
सर्किट हाउस में हुई बैठक के दौरान राम मंदिर निर्माण को लेकर टाटा कंसल्टेंसी एलएनटी के एक्सपर्ट व गुजरात की आर्किटेक्ट आशीष सोमपुरा ने प्रोजेक्टर के माध्यम से प्रेजेंटेशन दिया. उन्होंने यह भी बताया कि किस तरह से आने वाले दिनों में राम मंदिर निर्माण को लेकर गति और तेज की जाएगी. बैठक में राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्रा, श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय, सदस्य अनिल मिश्रा, सदस्य विमलेंद्र मोहन मिश्र मौजूद रहे. बता दें कि गुरुवार को भी सर्किट हाउस में बैठक होगी, जिसमें राम मंदिर निर्माण को लेकर और भी मंथन किया जाएगा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button