मनोरंजन

शिक्षा घोटालों पर आधारित सीरिज़ ‘शिक्षा मंडल’।

शिक्षा प्रणाली में ऐसी कई धोखाधड़ी प्रथाएं और घोटाले हैं, जो युवाओं के करियर को बर्बाद करने में अहम भूमिका निभा रही है। हमारे देश में फैले इसी तरह के बड़े शिक्षा घोटाले का पर्दाफाश करते हुए एमएक्स प्लेयर अपने एमएक्स ओरिजिनल सीरीज़ के तहत शिक्षा मंडल लेकर आया है, जो शिक्षा के क्षेत्र की एक बेहद कठिन कहानी से मिलवाएगा। सच्ची घटनाओं से प्रेरित इस सीरीज़ में देश के कमजोर छात्रों को प्रभावित करने वाली भ्रष्टाचार, धोखाधड़ी और आपराधिक साजिशों का खुलासा किया गया है। सैयद अहमद अफजल द्वारा निर्देशित इस सीरीज में गौहर खान, गुलशन देवैया, पवन राज मल्होत्रा, राजेंद्र सेठी और इरम बदर खान प्रमुख भूमिकाओं में हैं। यह सीरीज़ आपके पसंदीदा ओटीटी चैनल एमएक्स प्लेयर पर 15 सितंबर से स्ट्रीम होने के लिए तैयार है। शिक्षा मंडल के ट्रेलर में दिखाया गया है कि कैसे मेधावी छात्रों को एक भ्रष्ट शिक्षा प्रणाली में एक ऐसी भूमिका निभाने के लिए मजबूर किया जाता है, जिसमें अधिकारियों के सामने खड़े होने की कोई उम्मीद नहीं होती। धन, रहस्य, राजनीति और बहुत सारे घोटालों को केंद्र में रखकर बनाई गई इस सीरीज़ को देखकर इस बात का अंदाजा सहज ही लगाया जा सकता है कि किस तरह शैक्षिक संस्थानों के साथ मिलकर भ्रष्ट नेता सुनियोजित तरीकों से परीक्षा घोटालों को अंजाम देते हैं। यह सीरीज़ इस बात पर भी प्रकाश डालती है कि कैसे इस घोटालों में फंसे मासूम छात्र रहस्यमय ढंग से गायब होकर मौत के घाट उतार दिए जाते हैं।
इस सीरीज़ में एक पुलिस वाले की भूमिका निभा रहीं गौहर खान ने कहा, ‘‘मुझे खुशी है कि मैं शिक्षा मंडल का हिस्सा हूं, और यह पहला मौक़ा है जब किसी शो में मैंने एक पुलिस का किरदार निभाया है। मेरे लिए यह एक चुनौतीपूर्ण भूमिका है और मुझे उम्मीद है कि मैं इसके साथ पूरा न्याय करूंगी। शिक्षा मंडल शिक्षा घोटाले के इर्द-गिर्द घूमती है। हालांकि शिक्षा संस्थानों में घोटाले हमारे लिए चिंता का विषय है क्योंकि हम सबसे बड़ी और सबसे बुद्धिमान आबादी हैं।’’
इधर, गुलशन देवैया ने कहा, ‘‘शिक्षा से जुड़ा कोई भी घोटाला, परीक्षा पास करने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे उम्मीदवारों पर भारी आघात करता है और उनका मनोबल तोड़ने के लिए काफी है। एक अभिनेता के रूप में, मैंने हमेशा अपनी भूमिकाओं के ज़रिए स्क्रिप्ट और कंटेंट के साथ कुछ नया करने की कोशिश की है, जिस पर मैं हमेशा काम करता रहूँगा। शिक्षा मंडल एक ऐसा ही एक प्रोजेक्ट है। स्वयं एक शिक्षक होने के नाते इस कहानी का हिस्सा बनना और एक शिक्षक की भूमिका निभाना मेरे लिए एकदम सही था। सभी क्षेत्रों में शिक्षा सबसे जरूरी है और मैं सचमुच उसके आदर्शों में विश्वास करता हूँ।’’ इस सीरीज में बेहद शक्तिशाली व्यक्ति की भूमिका निभा रहे पवन राज मल्होत्रा ने कहा, ‘‘मुझे ऐसी भूमिकाएँ करना पसंद है जो दर्शकों पर प्रभाव डालती हैं। फिर वह चाहे हास्य के साथ हो या एक सटायर हो। शिक्षा मंडल के साथ हमने भ्रष्ट शैक्षणिक सर्किट का पुनर्निर्माण करने की कोशिश की है।’’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button