उत्तर प्रदेशबड़ी खबरमहोबा

पीएम मोदी ने किया ‘अर्जुन सहायक परियोजना’ का उद्घाटन, महोबा, हमीरपुर और बांदा के किसानों को मिलेगा जमीन सिंचाई सुविधा का फायदा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज महोबा में अर्जुन सहायक परियोजना का उद्घाटन किया. 2655 करोड़ रुपये की लागत की अर्जुन सहायक परियोजना महोबा, हमीरपुर, बांदा के किसानों के लिए बहुत फायदेमंद साबित होगा. इस परियोजना से किसानों को 59485 हेक्टेयर जमीन की सिंचाई सुविधा का फायदा मिलेगा. साथ ही इस परियोजना के माध्यम से महोबा जिले में 200 लाख घन मीटर पीने का पानी भी उपलब्ध होगा. बता दें कि पीएम मोदी ने आज महोबा, हमीरपुर, बांदा और ललितपुर में 3,240 करोड़ रुपये की अर्जुन सहायक परियोजना, भावनी बांध परियोजना, रतौली बांध परियोजना, मसगांव-चिल्ली स्प्रिंकलर परियोजना का लोकार्पण किया.

केंद्र और यूपी सरकार ने साल 2009-10 में अर्जुन सहायक परियोजना की शुरुआत की थी. इस परियोजना के जरिए धसान नदी से नहर निकालकर कई राज्यों तक पहुंचाने की योजना सरकार ने बनाई थी. 71 किमी लंबी नहर बनाने में सरकार को कई साल का समय लगा. योगी सरकार में एक बार फिर इस परियोजना को गति मिली. आज पीएम मोदी ने अर्जुन सहायक परियोजना का उद्घाटन (PM Modi Inaugurate Arjun Sahayak Project)  किया है. बात दें कि धमास नहीं मध्य प्रदेश के रायसेन के बेगमंज तहसील से निकलती है. यह बेतवा नदी की सहायक नदी है.

अर्जुन सहायक परियोजना का उद्घाटन

धसान नदी से निकाली गई लंबी नहर

यूपी सरकार ने साल 2009 में यह प्रस्ताव रखा था कि अगर धसान नदी से एक नहर बनाई जाए तो महोबा, बांदा और हमीरपुर जिले के गांवों के भीतर से नदी निकलने की वजह से इन गांवों में पानी की परेशानी दूर हो जाएगी. केंद्र द्वारा यूपी सरकार के इस प्रस्ताव को स्वीकार किए जाने के बाद साल 2009 में अर्जुन सहायक परियोजना की शुरुआत की गई थी. लेकिन कुछ ही सालों में इसे बंद कर दिया गया था. लेकिन मार्च 2021 में योगी सरकार ने इसे फिर से शुरू किया. पीएम मोदी द्वारा इस परियोजना के लोकार्पण से पहले सीएम योगी ने 17 नवंबर को खुद खुद अर्जुन बांध और कबरई फीडर का निरीक्षण किया था. इसके साथ ही सीएम ने अर्जुन तटबंध से अर्जुन जलाशय का अवलोकन भी किया था.

बुंदेलखंड में तेजी से हो रहे विकास कार्य

सीएम योगी ने आज बुंदेलखंडवासियों की तरफ से पीएम मोदी का स्वागत और अभिनंदन किया. उन्होंने कहा कि आजादी के बाद भी ये सिर्फ सपना बनकर रह गया था कि बुंदेलखंड के संसाधनों का इस्तेमाल यहां के लोगों के विकास में हो. सीएम योगी ने कहा कि साल 2014 में पीएम मोदी ने देश में समान विकास की अवधारण को अपनाया. सीएम योगी ने कहा कि बुंदेलखंड में विकास कार्य तेजी से किए जा रहे हैं. चाहे वह सिंचाई की परियोजनाओं का पूरा होना हो, या बुंदेलखंड हर घर नल के माध्यम से उठाया कदम हो. सभी कार्यक्रमों को बुंदेलखंड में आगे बढ़ाने का काम किया जा रहा है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button